एक अंगूठी ऐसी भी…

ringesi

यू तो आपने कई अंगूठियां देखी होंगी। जैसे सोने की, चांदी की, हीरे की, नग वाली अंगूठी और आर्टिफिशल अंगूठियां। न जाने अंगूठी की कितनी ही वैरायटी के बारे में आपने सुना और देखा होगा। आप सोच रहें होंगे कि मैं विनय बजरंगी आपको यहां आपको अलग-अलग अंगुठियों के बारे में बताने लगा हूं तो आप गलत सोच रहें है। दरअसल मैं तो आपको एक ऐसी चमत्कारिक अंगूठी के बारे में बताने लगा हूं जो सभी में आपसी प्रेम, प्यार और आपसी भाईचारे का संदेश देती है। आप सोच रहें होंगे कि ऐसी कौन सी अंगूठी जो पति-पत्नी में प्यार, बिछड़े दोस्तों को मिलाती है और प्रेम को परिपक्व करती है। आईए आपकी शंका को भी दूर करते हैं आपको बताते है उस अंगूठी के बारे में। जी हां इस चमत्कारिक अंगूठी को कहते हैं फिरोजा। ऐसा माना जाता है कि फिरोजा में हर एक को बस करने की शक्ति होती है यानि कि इसमें वशीकरण की शक्ति होती है। अगर विवाहित जोड़ा एक दूसरे को फिरोजा की अंगूठियां बनवा कर पहनाए तो इससे आपस में प्यार बढ़ता है।

फिरोजा में ऐसी ताकत जिसमें नफरत के लिए तो उसमें कोई स्थान नहीं वो सिर्फ प्यार ही प्यार फैलाती है फिरोजा जड़ित अंगूठी। फिरोजा को कई नामों से जाना जाता है। जैसे पेरोजक, पैरोज, नीलकंठ, फारसी में इसे फिरोजा कहा जाता है। जो आम तौर पर तिब्बत, अफगानिस्तान, अमेरिका और तुर्क देशों में पाया जाता है।

अगर लगन में पापी ग्रह हो तो फिरोजा इन्हें दूर करके हमें पापी ग्रहों से मुक्ति दिलाता है।

जिसकी राशि कुंभ हो उसे फिरोजा जरूर पहनना चाहिए। यही नहीं किसी का जन्म पोष महीने में हुआ है तो उसे भी फिरोजा पहनना चाहिए।

फिरोजा के रंग बताते हैं कि कौन सा रंग किस ग्रह के लिए पहनना चाहिए। बुध के लिए हरे रंग के फिरोजा पहनना चाहिए। शनि के लिए गहरा नीला जबकि शुक्र के लिए आसमानी हल्का नीला फिरोजा पहनना चाहिए। ये हमें आने वाले संकटों से बचाता है। अगर कोई आपको फिरोजा अंगूठी भेंट स्वरूप देता है तो इसका फायदा बहुत होता है।

2 thoughts on “एक अंगूठी ऐसी भी…”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *