Connect
To Top

बृहस्पति के उपाय खुशियाँ लाये

brahspatikokhush

बृहस्पति को कैसे प्रसन्न रखा जाए और कैसे उनकी कृपा पाई जाए और कौन से उपाय करने से बृहस्पति खुश होकर आपको आशीर्वाद देंगे आईए मैं विनय बजरंगी आपको बताता हूं कुछ उपाय।

बृहस्पति की प्रसन्नता हासिल करने के लिए हमेशा बृहस्पतिवार का व्रत रखें। आप अमावस का व्रत भी रख सकते हैं लेकिन ज्यादा उपयुक्त और श्रेष्ठ बृहस्पतिवार को ही माना गया है। रत्नों में पुखराज स्वर्ण में दान करना चाहिए। इनके दान की वस्तुएं जैसे सुयोग्य, सात्विक, सदाचारी कर्मकांडी, सन्योपासन करने वाले ब्राहमण को दान करने से बहुत लाभ होता है।

दान में पीले वस्त्र, स्वर्ण, हल्दी, घृत, पीला अन्न, चने की दाल, पुस्तक, मधु लवण, शर्करा, केशर, भूमि और छत्र देना चाहिए।

इसके लिए वैदिक मंत्र ओम बृहस्पते अति यदर्यों अर्हाद् द्रुमाद्वि भाति क्रतुमज्जनेतु।

यद्दीयच्छवस ऋतप्रजात तदस्मासु धेहि चित्रम्।।

पौराणिक मंत्र देवानां च ऋषीणां च गुरु कांचन संनिभम्।

बुद्धि भूतं त्रिलोशं तं नमामि बृहस्पतिम्।।

बीज मंत्र में ओम ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरुवे नम:।

सामान्य मंत्र ओम बृं बृहस्पतये नम:।

इनमें से किसी भी मंत्र का शुद्ध अंत: करण और श्रद्धा से जाप किया जाना चाहिए। गुरु की शांति के लिए गुरु दशा या वैसे भी हर गुरुवार को केले की पूजा सभी के लिए सुख शांति और समृद्धि प्रदान करने वाली होती है। इसलिए तो गुरु की तुलना ब्रहमा, विष्णु, महेश  से की जाती है और श्रद्धा व्यक्त की जाती है।

गुरुर्ब्रहमा, गुरुविष्णु, गुरुर्देवो महेश्वर।

गुरुर्साक्षात् परंब्रहमा, तस्मै श्री गुरुवे नम:।

सोना पहने और गुरु की सेवा करें। बृहस्पतिवार का व्रत रखें और कन्याओं को बूंदी के लड्डू खिलाएं। अपने रोजाना के जीवन में पीतल के बर्तनों का इस्तेमाल करें।

बुजुर्ग ब्राहमण की सेवा करें और उनका आशीर्वाद लें। किसी धार्मिक स्थान में जाकर सेवा करें जिसमें सफाई मुख्य रूप से करें। धार्मिक पुस्तकें, केसर और चने की दाल दान करें। धार्मिक पुस्तकें पढ़े। घी का दान करें, गंगा स्नान करके सूर्य को अर्घ्य दें।

अगर आप इन उपायों को सच्चे मन से और पूरी आस्था के साथ करेंगे तो आप पर हमेशा ही बृहस्पति की कृपा बनी रहेगी। अगर आपके जेहन में बृहस्पति देव के बारे में कोई सवाल है तो आप इसके बारे में बेझिझक पूछ सकते हो या फिर आप नोएडा स्थित बजरंगी धाम आ सकते हो।

2 Comments

  1. vishwajit

    February 9, 2017 at 5:27 pm

    Santan prapti ke liye brahaspati Jaap mantra aur advice Dob: 11-9-1976 time 2045 8:45 night

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *